एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी-Biography of Elizabeth II in Hindi

एलिजाबेथ द्वितीय की जीवनी-Biography of Elizabeth II in Hindi

एलिजाबेथ द्वितीय ब्रिटेन की संवैधानिक राष्ट्राध्यक्ष और 53 स्वतंत्र देशों के संगठन राष्ट्रमंडल की प्रमुख हैं. अंतरमुखी व्यक्तित्व वाली एलिजाबेथ द्वितीय अपने बेदाग नैतिक चरित्र, प्रशासनिक कौशल और समाज के सभी वर्गों के प्रति अपनी सहृदयता के लिए जानी जाती है. वे सेना में सेवाएं देने वाली ब्रिटिश राजपरिवार की एक मात्र महिला सदस्य हैं.

संक्षिप्त जीवनी Brief Biography

द्वितीय विश्व् युद्ध के बाद इंग्लैण्ड को फिर से समृद्धि और विकास के रास्ते पर लाने का श्रेय उन्हें ही जाता है इसलिए द्वितीय विश्व युद्ध के बाद के समय को इंग्लैण्ड के इतिहास में नव एलिजाबेथ युग भी कहा जाता है.

नाम  एलिजाबेथ एलेक्जेंड्रा मेरी, एलिजाबेथ द्वितीय
व्यवसाय महारानी
जन्म एवं स्थान 21 अप्रेल 1926, मेफेयर, लंदन
पति प्रिंस फिलिप
शिक्षा निजी रूप से घर पर

एलिजाबेथ द्वितीय का आरंभिक जीवन Early life

एलिजाबेथ द्वितीय प्रिंस एल्बर्ट (किंग जार्ज-6) और एलिजाबेथ प्रथम की संतान हैं. किंग जार्ज पंचम और क्वीन मेरी उनके दादा-दादी थे. एलिजाबेथ ने अपनी बहन मार्गरेट के साथ घर पर ही शिक्षा प्राप्त की और इतिहास, फ्रेंच, गणित, भूगोल जैसे विषयों के साथ-साथ नृत्य, गायन एवं कला में भी महारत हासिल की.

एलिजाबेथ द्वितीय के जीवन में उनके दादा किंग जार्ज पंचम के निधन के बाद निर्णायक मोड़ आया जब 1936 में उनके चाचा एडवर्ड अष्टम ने अपनी प्रेमिका और दो बार की तलाकशुदा वैलेस सिंपसन से विवाह करने के लिए सिंहासन का त्याग कर दिया. इस कारण एलिजाबेथ के पिता को राजा घोषित किया गया और एलिजाबेथ 2 को क्राउन प्रिंसेस बनाया गया.

एलिजाबेथ द्वितीय का द्वितीय विश्व युद्ध में सैन्य सेवा काल

दूसरा विश्व युद्ध जब शुरू हुआ तो लंदन पर भारी बमबारी हुई. एलिजाबेथ 2 और उनकी बहन को स्काॅटलैण्ड में सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया, जहां वे 1939 के क्रिसमस तक रहीं. इसके बाद उन्हें कुछ समय के लिए नाॅरफाॅक ले जाया गया. मई 1940 के बाद उन्हें विंडसर कैसल भेज दिया गया, जहां उन्होंने कई वर्ष बिताए.

एलिजाबेथ द्वितीय को 1942 में ग्रेनेडियर गाडर््स का कर्नल इन चीफ नियुक्त किया गया. 1945 में उन्हें महिलाओं की आॅक्जेलरी टेरिटोरियल सर्विस में मानद सेंकण्ड सबाल्टर्न नियुक्त किया गया. यहां उन्होंने ड्राइवर और मैकेनिक का प्रषिक्षण लिया और कुछ ही महीनों में उन्हें उस रेजिमेंट का जूनियर कमांडर बना दिया गया.

राजकुमारी एलिजाबेथ द्वितीय

एलिजाबेथ द्वितीय अपने माता-पिता के आधिकारिक दौरों पर इंग्लैण्ड और अन्य देशों की यात्रा पर भी जाया करती थी. 1951 में अपने पिता किंग जार्ज-6 का स्वास्थ्य खराब होने पर उनके उत्तराधिकारी के रूप में एलिजाबेथ 2 ने अमेरिका और कनाडा की यात्राएं की.

एलिजाबेथ 2 की ताजपोशी

एलिजाबेथ द्वितीय 1952 में जब केन्या, आॅस्ट्रेलिया और न्यूजीलैण्ड की यात्रा पर थी, तब अचानक उनके पिता की मृत्यु हो गई. इसके बाद 6 फरवरी 1952 की रात को उन्हें ब्रिटेन की महारानी घोषित कर दिया गया. 2 जून 1953 को वेस्टमिंस्टर एबी में एलिजाबेथ द्वितीय की विधिवत ताजपोशी हुई. यह इतिहास में पहला समारोह था जिसका टेलीविजन पर प्रसारण किया गया. वर्ष 1957 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महसभा को राष्ट्रमंडल देशों के प्रतिनिधि के तौर पर संबोधित किया.

एलिजाबेथ द्वितीय वर्ष 2002 में ने महारानी के रूप में 50 साल पूरे किए और उन्होंने अपने राष्ट्रमंडल प्रजाभूमि के तहत आने वाले सभी 16 देशों की यात्राएं की. वर्ष 2010 में उन्होंने दूसरी बार संयुक्त राष्ट्र को संबोधित किया.

एलिजाबेथ 2 को मिली धमकियां और विवाद

एलिजाबेथ द्वितीय पर 1981 में उनके जन्म दिवस समारोह में बकिंघम पैलैस के पास एक किशोर ने बंदूक से हमला किया. इसके अगले ही साल एक अन्य युवक उनके बेडरूम में घुस गया. खुशकिस्मती से दोनों ही हमलों में उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा.

1997 में प्रिंसेस डायना की एक हादसे में मौत हो गई. जिसके बाद एलिजाबेथ 2 को खामोश रहने के लिए लोगों की आलोचना का सामना करना पड़ा.

एलिजाबेथ द्वितीय का पारिवारिक जीवन Married Life of Elizabeth 2

एलिजाबेथ 2 ने 20 नवम्बर 1947 को वेंस्टमींस्टर एबी में आयोजित एक समारोह में ग्रीस और डेनमार्क के प्रिंस फिलिप के साथ विवाह किया. 14 नवम्बर 1948 को उनके बड़े बेटे प्रिंस चार्ल्स का जन्म हुआ. इसके कुछ वर्ष बाद उन्होंने प्रिंसेस एने को जन्म दिया. 1960 में प्रिस एंड्रयू और 1964 में प्रिंस एडवर्ड का जन्म दिया.

1969 में एलिजाबेथ द्वितीय ने प्रिंस चाल्र्स को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया और उन्हें प्रिंस आफ वेल्स की उपाधि दी. प्रिंस चार्ल्स ने 1981 में 19 वर्ष की डायना स्पेंसर के साथ विवाह किया.

एलिजाबेथ 2 से जुड़े रोचक तथ्य

– एलिजाबेथ 2 ने कई देशों की यात्राएं की है लेकिन उनके पास पासपोर्ट नहीं है.

– एलिजाबेथ 2 ने अपने विवाह की पोशाक खरीदने के लिए राशन के कूपनों का इस्तेमाल किया था क्योंकि इंग्लैण्ड उन दिनों तंगहाली के दौर से गुजर रहा था.

– एलिजाबेथ 2 को कुत्ते पालने का शौक है.

– एलिजाबेथ द्वितीय को फुर्सत के समय मिस्ट्री नाॅवल्स पढ़ने और टीवी पर रेसलिंग देखने का शौक है.

– एलिजाबेथ 2 की कुल निजी संपत्ति 550 मिलियन डाॅलर है.

यह भी पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *